शनिवार, 23 मई 2009

यहि देश कै भैया का होई ॥ आओ हम....

ङाक्टरेट से सम्मानित , शिक्षामंत्री एस .एम पटेल है।
के.के.एन.एफ़ डिग्री उनकी ,उई खींच -खाँच नाइन्थ फ़ेल है॥
यहि देश कै भैया का होईआओ हम....
आफिस मा लागत छुट्टी है,सब देख रहे है क्रिकिटिया ।
बाबू औ अफसर दूनौ मिलि, जनता कै खड़ी करैं खटिया ॥
यहि देश कै भैया का होईआओ हम....
स्वीटर बुन रही मास्टरनी , लरिकउनी गप्पे मार रही।
मास्टरनी लरिकउनी मिलिकै,विद्या कै अरथी निकार रही॥
यहि देश कै भैया का होईआओ हम....
मास्टर जी कुर्सी पर सोवैं ,लरिकै खेले गुल्ली डंडा।
खुल गवा पोल पढ़ाई कै ,जब पहुंचे इस्पिट्टर पंडा॥
यहि देश कै भैया का होईआओ हम....
जब मिला नतीजा कै कारड़,लरिकउनेव कै फूटा भंडा ।
तब बप्पा किहिन धुनाई खूब,जब देखीं सब अंडै -अंडा ॥
यहि देश कै भैया का होईआओ हम....
दै रही वजीफा गवरमिन्ट औ,पूरी खीर खियावत है।
देखै पिक्चर ,फांकै पुकार ,सब लरिका मौज उडावत है॥
यहि देश कै भैया का होईआओ हम....

-मोहम्मद जमील शास्त्री

कोई टिप्पणी नहीं: