सोमवार, 26 जुलाई 2010

भेड़ें लातादाद हैं लेकिन सबको जान के लाले हैं, उनको यह तालीम मिली है, भेड़िए ताकत वाले हैं : हफीज जालंधरी


उत्तर प्रदेश में यह शेर हाफिज जालंधरी साहब का आज भी पूरी तरीके से प्रासंगिक है प्रदेश के पिछड़ा वर्ग कल्याण राज्यमंत्री अवधेश वर्मा की सुरक्षामें तैनात सिपाही शाहजहांपुर दो पुलिस कांस्टेबल रात के ग्यारह बजे शाहजहाँपुर के कार्पोरेशन बैंक पहुंचे और वहां लगी हुई .टी.एम मशीन को उखाड़ liya और चौकीदारों को मार पीट कर .टी.एम मशीन को गाडी में लाद कर चले गए
बैंक अधिकारियो के प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करने के बाद एक पुलिस कांस्टेबल के घर से .टी.एम मशीन बरामद हुई.टी.एम मशीन में लगभग 9 लाख रुपये थेउत्तर प्रदेश पुलिस के अधिकांश कर्मचारी अधिकारी इसी तरह की हरकत कर रहे हैंइन सब घटनाओ की जानकारी ऊपर से नीचे बैठे सभी लोगों को होती रहती हैइस व्यवस्था में भेड़ों को मोड़ने का कार्य बराबर जारी है राजनेताओं की स्तिथि और भी बद से बदतर हैदेखिये आगे अभी क्या-क्या होता है ?

सुमन
लो क सं घ र्ष !

फोटो साभार: हिंदुस्तान दैनिक

1 टिप्पणी:

सहसपुरिया ने कहा…

देखिये आगे अभी क्या-क्या होता है ?