सोमवार, 5 अक्तूबर 2015

गुजरात के तड़ीपार- बिहार से भी तड़ीपार होंगे

साभार
बिहार में भारतीय जनता पार्टी गुटबाजी के कारण या नेताओं के बडबोलेपन से वह विधानसभा चुनाव में तड़ीपार होगी. गुजरात के तड़ीपार नेता जी बिहार में आसन जमा कर तरह-तरह के खेल खेल रहे हैं उसके बावजूद भी राम जेठमलानी नरेन्द्र मोदी को यह प्रमाण पत्र दे रहे हैं कि मोदी ने लोगों को छला है, नीतीश को वोट करो. दूसरी तरफ भाजपा के बड़े नेता सुशील मोदी लोकसभा चुनाव के बाद फेकू स्टाइल में  स्कूटी के साथ दो साल पेट्रोल देने का वादा कर रहे है. विकास की चर्चा लगभग बंद सी हो गयी है और मतदाताओं को भारतीय जनता पार्टी लालच और प्रलोभन दे रही है. यह उसकी हताशा का प्रमाण है. बगल के झारखण्ड में सांप्रदायिक उन्माद फैलाने की कोशिशें नाकाम हो रही हैं जिससे भारतीय जनता पार्टी के नेताओं में हताशा बढ़ रही है.                  
                        बिहार विधानसभा चुनाव करीब आ रहे हैं वैसे-वैसे भारतीय जनता पार्टी में गुटबाजी बढ़  रही है। बिहार में आरा से लोकसभा सांसद आरके सिंह और पटना साहिब  से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के गंभीर आरोपों के कारण भाजपा संकट में  है। बिहार के कुछ  लोकसभा सांसद ऐसे हैं जिनके बयानों से पार्टी  अक्सर बैकफुट पर आ जाती है। नवादा से बीजेपी सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कांग्रेस प्रेजिडेंट सोनिया गांधी पर नस्ली टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा का था कि गोरी चमड़ी के कारण कांग्रेस ने सोनिया का नेतृत्व स्वीकार किया। बाद में उन्होंने माफी मांगी. बक्सर से बीजेपी सांसद अश्विनी चौबे  ने सोनिया गांधी की तुलना मिथकीय चरित्र राक्षसी पूतना से की थी। पूतना को कंस ने बालक कृष्ण की हत्या के लिए भेजा था।
 जुलाई में पीएम मोदी की मुजफ्फपुर में रैली के बाद बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने नीतीश कुमार से मुलाकात कर उनकी जमकर तारीफ की थी। सिन्हा ने नीतीश पर मोदी के डीएनए वाले बयान की भी आलोचना की थी।
 दरभंगा से भाजपा सांसद कीर्ति आजाद ने वित्त मंत्री अरुण जेटली पर बतौर क्रिकेट प्रशासक दोहरा रवैया अपनाने का आरोप लगाया था। छेदी पासवान अपने बेटे रवि पासवान को पार्टी से टिकट नहीं दिला पाने का मलाल है। छेदी पासवान ने आरोप लगाया है कि पार्टी में सीनियर नेताओं को अलग-थलग किया जा रहा है। सासाराम से बीजेपी सांसद पासवान पार्टी से बेहद खफा हैं। जब पार्टी ने रवि पासवान को टिकट नहीं दिया तो उन्होंने समाजवादी पार्टी का थाम लिया.  सांसद हरि  मांझी  गया में मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी के साथ मंच पर थे। उन्होंने बात-बात में बीजेपी को 'बौरा जानेवाली पार्टी' करार दिया था।वही लालू अकेले ही इनके बडबोलेपन का जवाब दे रहे है   जिसका उत्तर भाजापा  को नही सूझ  रहा है  लालू  ने ट्विटर पर लिखा है कि एक नरभक्षी और तड़ीपार बिहार को सदाचार ना सिखाए। पहले स्वयं के कुकर्म और खुद पर लगी सारी जघन्य धाराओं के बारे में चिल्लाकर लोगों को बताएं या कलयुगी धृतराष्ट्र और को दुर्योधन की जोड़ी .


1 टिप्पणी:

Madan Mohan Saxena ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति बहुत ही अच्छा लिखा आपने .बहुत ही सुन्दर रचना.बहुत बधाई आपको . कभी यहाँ भी पधारें और लेखन भाने पर अनुसरण अथवा टिपण्णी के रूप में स्नेह प्रकट करने की कृपा करें |

http://madan-saxena.blogspot.in/
http://mmsaxena.blogspot.in/
http://madanmohansaxena.blogspot.in/
http://mmsaxena69.blogspot.in/