बुधवार, 3 अप्रैल 2019

योगी सरकार मिल मालिकों की सरकार



अलीगढ़।योगी सरकार में श्रम कानूनों का पालन नहीं कराया जा रहा है इसके विपरीत मिल मालिकों की पक्ष धारी कि जा रही है
मिल मालिकों ने 14 7 मजदूरों को श्रम कानूनों को लागू करने की मांग करते ही बगैर नोटिस दिए निकाला गया है।
 योगी मोदी सरकार में मिल मजदूरों की दशा अत्यधिक खराब है
स्थानीय वेब शराब व बीयर फैक्ट्री के निष्काषित मजदूरों का अनिश्चित कालीन धरना आज आठवें दिन भी जारी रहा।
जिला प्रशासन के उदासीन व्यवहार के चलते आंदोलन रत मजदूरों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है,इनका मानना है कि जिला प्रशासन फैक्ट्री मालिकों के हाथ में खिलौना बना हुआ है और फैक्ट्री प्रबन्धन के विरुद्ध कार्यवाही करने की उसमें हिम्मत नहीं है, जबकि मजदूरों की मांगें संवैधानिक एवं न्यायोचित हैं।मजदूरों का कहना है कि यदि शीघ्र ही फैक्ट्री प्रबन्धन पर दबाब बनाकर हमारी माँगे पूरी न करायी गई तो हम आंदोलन के अन्य विकल्पो पर विचार करने पर मजबूर होंगे,जिसकी पूरी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी।
इस अवसर पर आल इंडिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस के जिलाध्यक्ष सुहेब शेरवानी, सचिव रामबाबू गुप्ता, रामवीर सिंह, जगदीश प्रसाद , धर्मवीर उपस्थित रहे।

1 टिप्पणी:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' ने कहा…

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शुक्रवार (05-04-2019) को "दिल पर रखकर पत्थर" (चर्चा अंक-3296) पर भी होगी।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
--
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'