मंगलवार, 5 मई 2020

योगी जी :वाह आपके मंडी सचिव लौकी तीन रुपए किलो बिकवा रहे हैं।

योगी जी वाह
सरकार कोरोना काल में भी चल रही है। सब्जी उत्पादकों को लाभकारी मूल्य मिल सके जिसके लिए  पूर्ववर्ती सरकारों ने मंडी स्थापित की  थी।
लेकिन बाराबंकी में किसानों को लाभकारी मूल्य न मिल सके उसके मंडी समिति ने मंडी का समय तीन बजे से सुबह सात बजे कर दिया है।
जिससे अपने उत्पादों को न बेच पाएं। हद यहां तक हो गई है कि किसानों को आदेशित किया है कि वह अपना उत्पादन व्यापारी के पास छोड जाए और रुपये अगले दिन आकर लें।
फुटकर विक्रेताओं को भी जाने नहीं दिया जाता है। व्यापारियों और मंडी सचिव का गठजोड़ किसानों को तीन रुपये किलो लौकी बेचने पर मजबूर कर दिया गया है।
सूत्रों के अनुसार जानकारी मिली है कि मंडी सचिव एक बाबूलाल  नाम के सेवा निवृत्त कर्मी को लेकर मंडी समिति में राउंड करते हैं और सोशल डिस्टेंसिंग के नाम पर अवैध चंदा न देने वालों पर लठ्ठ बजवा देते हैं।
व्यवस्था के नाम पर जंगलराज कायम हो गया है।
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी आपसे मांग करती है कि अविलंब मंडी सचिव को हटाकर जांच कराकर राष्ट्रीय संकट काल में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई कराएं।
इस तरह के तत्व सरकार को और अधिक बदनाम कर रहे हैं।

रणधीर सिंह सुमन