मंगलवार, 29 सितंबर 2009

अवध के किसान नेता की गिरफ्तारी पर


"गाँधी जी ने तुंरत माइक संभाल लिया आप लोग शांत रहिये बाबा रामचंद्र की गिरफ्तारी हुई है , जो एक पवित्र घटना है आप उन्हें छुडाने की मांग करें, इस मसले को लेकर जेल जाएँ इससे उन्हें दुःख होगा हमारा रास्ता शान्ति अहिंसा का है, उन्हें छुडाने का बेहतर तरीका यही है कि हम शांतिपूर्वक असहयोग करें "

"कमलाकांत त्रिपाठी के 'बेदखल'से "


2 टिप्‍पणियां:

महफूज़ अली ने कहा…

हमारा रास्ता शान्ति व अहिंसा का है, उन्हें छुडाने का बेहतर तरीका यही है कि हम शांतिपूर्वक असहयोग करें

waaqai mein sahi tareeka yahi hai...

दिल दुखता है... ने कहा…

दशहरा की हार्दिक शुभकामनाएं........