शनिवार, 7 अगस्त 2010

वर्ष के चर्चित उदीयमान ब्लोगर का सम्मान,वर्ष के श्रेष्ठ तकनीकी ब्लोगर का सम्मान

वर्ष के चर्चित उदीयमान ब्लोगर का सम्मान

एक ऐसा चिट्ठाकार जिसके द्वारा एक वर्ष पूर्व एक चिटठा देशनामा…शुरू किया गया इस आशय के साथ कि देश का कोई धर्म नहीं, कोई जात नहीं, कोई नस्ल नहीं तो फिर यहां रहने वाले किसी पहचान के दायरे में क्यों बांधे जाए ।

आजकल जब सारा मीडिया स्तरहीन सामग्री से भरा पड़ा है तो ऐसे में विभिन्न महत्वपूर्ण मुद्दों को उठाना और तर्कपूर्ण वक्तव्यों के माध्यम से प्रस्तुत करना इस ब्लॉग के प्रति अनायास हीं सम्मान का भाव पनपता है ।महज एक वर्ष की अल्प आयु वाला यह ब्लॉग चिट्ठाजगत की सक्रियता में सम्मानित स्थान पर है और इसमें अभीतक महत्वपूर्ण मुद्दों से परिपूर्ण कतिपय पोस्ट लिखे जा चुके हैं जो इस चिट्ठे के समर्पण को परिलक्षित करता है ।
इस ब्लॉग के यशश्वी संचालक खुशदीप सहगल की सहभागिता अनायास ही सबको अचंभित करती रही है. हमेशा चर्चा में रहने वाले इस चर्चित उदीयमान ब्लोगर को ब्लोगोत्सव की टीम ने वर्ष के चर्चित उदीयमान ब्लोगर का अलंकरण देते हुए सम्मानित करने का निर्णय लिया है!

वर्ष के श्रेष्ठ तकनीकी ब्लोगर का सम्मान

एक ऐसा ब्लोगर जो सॉफ्टवेयर इंजिनियर होने के साथ-साथ प्रखर साहित्यकार भी है .....जो अपने रास्ते खुद बनाता है और उन रास्तों पर सबसे पहले चलने का जोखिम भी उठाता है !

जिसने ब्लोगोत्सव के टेम्पलेट को सजाया ही नहीं एक आकर्षक रंग भी दिया और प्रभामंडल भी ....जिसकी तकनीकी परिपक्वता का लोहा माना है हिंदी चिट्ठाजगत ने और जिनकी रचनाओं को स्थान मिला है कविताकोश में !

जानते हैं कौन है वो?
वो हैं श्री विनय प्रजापति "नज़र"
जिन्हें ब्लोगोत्सव-२०१० की टीम ने वर्ष के श्रेष्ठ तकनीकी ब्लोगर का अलंकरण देते हुए सम्मानित करने का निर्णय लिया है !

2 टिप्‍पणियां:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक ने कहा…

बहुत-बहुत बधाइयाँ!

बी एस पाबला ने कहा…

दोनों साथियों को बधाई, शुभकामनायें