गुरुवार, 22 अगस्त 2013

आसाराम को बलात्कार का लाइसेंस

आसाराम बापू भारतीय समाज में एक संत की भूमिका में रहते हैं और दक्षिणपंथी राजनीति में हिस्सा भी  लेते हैं, उसी राजनीति के तहत भारतीय जनता पार्टी की सुप्रसिद्ध नेत्री उमा भारती ने डंके की चोट पर कहा है कि आसाराम निर्दोष हैं और राहुल, सोनिया का विरोध करने के कारण उनको फसाया जा रहा है. छात्र जीवन से ही मैं और मेरे बहुत से साथी इंदिरा गाँधी से लेकर राहुल गाँधी तक का विरोध करते हैं और विरोध में राजनीतिक रूप से जेल भी गए हैं अगर यही होने लगे तो आसाराम जैसे हजारों संत महात्मा सरकार का विरोध करते रहते हैं पर बलात्कार जैसे जघन्य अपराध में नामजद नहीं होते हैं. उमा भारती के अनुसार लगता है की पूर्व की घटनाओ की तरफ उन्होंने ध्यान नहीं दिया है और विरोध करने का यह अर्थ नहीं है कि  आसाराम को बलात्कार करने का लाइसेंस मिल गया है. बलात्कार के मामले में विवेचना अधिकारी अपनी विवेचना करेगा और अगर वह निर्दोष हैं तो निश्चित रूप से विवेचना में उनके खिलाफ फाइनल रिपोर्ट न्यायलय को चली जाएगी। साधारण व्यक्ति होता तो अब तक वह जेल पहुँच गया होता। अगर उमा भारती व भाजपा विवेचना अधिकारी से संतुष्ट नहीं हैं तो जिस एजेंसी से चाहे विवेचना करवाने के लिए प्रार्थना कर सकते हैं, यह उनका अधिकार है. 
           नाबालिग से रेप केस में आसाराम बापू की  गिरफ्तारी हो सकती है। मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता उमा भारती उनके बचाव में उतर आई हैं। उन्होंने 12वीं में पढ़ने वाली लड़की द्वारा आसाराम के खिलाफ दर्ज कराई गई रेप की शिकायत को झूठ करार देते हुए कहा कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी के विरोध की वजह से बापू को झूठे मामले में फंसाया जा रहा है।
छिंदवाड़ा में आसाराम के गुरुकुल में 12वीं क्लास में पढ़ने वाली छात्रा ने प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कर्रवाई है कि, अगस्त की शुरुआत में उसकी तबीयत बिगड़ गई। आसाराम ने लड़की को तंत्र विद्या से ठीक करने के लिए जोधपुर बुलाया। लड़की के अनुसार, जोधपुर में आसाराम बापू ने बलात्कार किया। 
 इसके पूर्व भी अगस्त 2008 में आसाराम बापू गुरुकुल आश्रम में एक बच्चे की मौत हो गई थी।उस दौरान दो दिनों के अंदर यह दूसरे बच्चे की मौत थी। घटना के बाद आश्रम के बाहर भारी संख्या में लोग एकत्र हो गए थे और चक्काजाम कर दिया था। पालकों में दहशत का माहौल और वे अपने बच्चों को आश्रम से ले जा रहे थे।केजी-टू में पढ़ने वाले वेदांत का शव बाथरूम में मिला था। वहीं दूसरे दिन एक और बच्चे का शव बाथरूम में ही मिला था।
भारत में अक्सर धार्मिक गुरुवों की रंगरलियों की कहानी उजागर होती रहती है और धर्मान्ध लोग आँख मूँद कर ऐसे व्यक्तियों का समर्थन भी करते रहते हैं जो वास्तव में गंभीर अपराधी होते हैं.

सुमन 

6 टिप्‍पणियां:

DR. ANWER JAMAL ने कहा…

nice post.

Lalit Chahar ने कहा…

बहुत सुन्दर प्रस्तुति.. हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {चर्चामंच} के शुभारंभ पर आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी पोस्ट को हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल में शामिल किया गया है और आप की इस प्रविष्टि की चर्चा {रविवार} (25-08-2013) को हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {चर्चामंच} पर की जाएगी, ताकि अधिक से अधिक लोग आपकी रचना पढ़ सकें। कृपया पधारें, आपके विचार मेरे लिए "अमोल" होंगें | आपके नकारत्मक व सकारत्मक विचारों का स्वागत किया जायेगा | सादर .... Lalit Chahar

राजन ने कहा…

इस देश को नेताओं से ज्यादा बर्बाद तो ऐसे ढोंगियों ने कर रखा है।
इसके मूर्ख भक्तों को तो अभी भी कोई अक्ल नहीं आएगी।

Mansoorali Hashmi ने कहा…

शामिल रज़ा* न हो तो 'बलात्कार' ही तो है, *permission
हठधर्मिता की श्रेणी; व्याभिचार ही तो है।

प्रशस्त कर रहे है वो 'मुक्ति' का मार्ग ही !
"बाबा"* जो कर रहे है वो सहकार ही तो है!! * आज के 'बापू'
http://mansooralihashmi.blogspot.com

projectsport.com ने कहा…

सावधान !"मेरे माता-पिता दबाव डाल रहे हैं l" - लड़की का बयान
मीडिया : आसाराम बापू ने 75 साल की उम्र में एक नाबालिग से बलात्कार किया है l पीडिता और उसके परिवार की यह मांग है कि आसाराम बापू को सख्त से सख्त सज़ा मिले l
सच्चाई : लड़की की सहेली ने अपने बयान में यह खुलासा किया है कि उसकी लड़की से फोन पर बात हुई है और उसने यह बताया है कि वो ऐसे कोई आरोप नहीं लगाना चाहती बल्कि वो अपने माता-पिता के दबाव में आकर ये कर रही है l कुछ मीडिया चैनलों ने इस खबर को कुछ समय के लिए दिखाया पर बाद में इस पर कोई चर्चा नहीं की l ऐसा क्यों ?
स्त्रोत: लड़की की सहेली का मीडिया को ब्यान

Bhaskar Patel ने कहा…

क्या बापूजी का यही गुनाह है की उन्होंने धर्मांतरण वालों का विरोध करने के लिए हिन्दुओं को जागृत किया ? आज भारत में संस्कृति के आधारस्तम्भ निर्दोष संतों पर अत्याचार किये जा रहे हैं, फिर भी हम सब जाग नहीं रहे हैं।(जय हिंद )