शनिवार, 22 अक्तूबर 2016

हर पार्टी में अच्छे आचरण के व्यक्तियों का अभाव- ओंकार सिंह

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला मंत्री ब्रजमोहन वर्मा, पूर्व विधायक परमात्मा सिंह, उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री ओमकार सिंह साथ में हुमायूँ नईम खान- गजेन्द्र सिंह के चित्र पर माल्यार्पण करते हुए.
बाराबंकी। देश की जनता को इस बात पर मंथन करना होगा कि हम सत्ता में कैसे लोगों को चुन कर भेज रहे हैं। वर्तमान समय में सत्ता व्यापारियों व अपराधियों के हाथ में चली गयी है। जिसके दुष्परिणाम आज हमारे सामने है।
    यह विचार उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव ओंकार सिंह ने जिला के पूर्व विधायक समाज सेवी एवं साहित्य प्रेमी गजेन्द्र सिंह की चौथी पुण्य तिथि पर गांधी भवन में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में मुख्य वक्ता के तौर पर अपने उद्बोधन में व्यक्त किया। उन्होनें हुकुमत ए ब्रितानिया के पूर्व प्रधानमंत्री चर्चिल के उस कथन का जिक्र किया जो उन्होनें भारत की स्वतंत्रता के उपरान्त अपने वक्तव्य में कहा कि भारत वर्ष स्वतंत्रता की प्राप्ति तो कर रहा है लेकिन कुछ दिनों उपरान्त इस अच्छे मुल्क का निजाम अपराधियों व व्यापारियों के हाथों में चला जायेगा। ओंकार सिंह ने देश की वर्तमान स्थिति व राजनैतिक परिवेशों में व्याप्त भ्रष्टाचार पर अपनी चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि देशहित व समाजहित के बारे में आज कोई नहीं सोच रहा है और हर पार्टी में अच्छे आचरण के व्यक्तियों का अभाव सा होता जा रहा है। यह हमारे लोकतन्त्र के लिए ठीक नहीं है।
                                      उत्तर प्रदेश अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व चेयरमैन गयासुद्दीन किदवई ने पूर्व विधायक गजेन्द्र सिंह को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि गजेन्द्र सिंह के भीतर जनहित प्रेम, देश प्रेम व समाज के सबसे निचले स्तर पर जीवन यापन कर रहे एक समर्पणभाव व सेवाभाव था। जिसका अनुशरण आज के राजनीतिज्ञों को करना चाहिए। पूर्व विधायक परमात्मा सिंह ने अपने विचार रखते हुए गजेन्द्र सिंह के सामाजिक कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्होनें विधायक न रहने के बावजूद अपने राजनैतिक क्षेत्र रामनगर के लिए सदैव कार्य किया।
श्रद्धांजलि सभा में जिला बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष बृजेश दीक्षित,महामंत्री प्रदीप सिंह,पूर्व न्यायधीश आर0सी0 निगम, उच्च न्यायालय के अधिवक्ता मुहम्मद शुऐब, उत्तर प्रदेश अल्पसंख्यक वित्त एवं विकास निधि के निदेशक इज़हार हुसैन,पूर्व प्राचार्य डा0 अहसन वेग, गांधी समारोह ट्रस्ट के अध्यक्ष राजनाथ शर्मा,भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सचिव बृजमोहन वर्मा,वरिष्ठ भाजपा नेता केदार बक्श सिंह,,रणधीर सिंह सुमन,प्रशान्त मिश्रा, अवधेश प्रताप सिंह, हूमायू नईम खाँ, समाज सेवी सरदार जगजीत सिंह, अजय गुरूए विनय श्रीवास्तव, एवं विजय सिंह ने भी अपने उद्गार व्यक्त किये।
इस अवसर पर जिला बार एसोसिएशन के पूर्व उपाध्यक्ष कौशल किशोर त्रिपाठी, डा0 कौसर हुसैन, मो0 वसीम राईन, सरदार सुरजीत सिंह,एस0एम0हैदर, महन्त हरिशरणदास,एस0ए0रिज़वी उर्फ शब्बन, जहीरूल कदर,नवीन सेठ,उपेन्द्र सिंह,कलीम किदवाई, श्याम सुन्दर दीक्षित, राजीव यादव,महन्त बी0पी0दास,पाटेश्वरी, विजय प्रताप सिंह, हनोमान वर्मा, अमर प्रताप सिंह, पवन वर्मा,कमल सिंह चन्देल,अजय कुमार सिंह, सतेन्द्र यादव, विनय सिंह, कर्मवीर सिंह,राजेन्द्र सिंह राणा, गिरीश चन्द्र, भूपेन्द्र सिंह सैंकी,रामनरेश, आदि उपस्थित थे।
मो0 तारिक खान के संचालन में आयोजित कार्यक्रम के प्रारम्भ में उपस्थित जन ने चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।


1 टिप्पणी:

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक ने कहा…

आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि- आपकी इस प्रविष्टि के लिंक की चर्चा कल सोमवार (24-10-2016) के चर्चा मंच "हारती रही हर युग में सीता" (चर्चा अंक-2505) पर भी होगी!
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'