बुधवार, 26 जुलाई 2017

अडानी, अम्बानी की नौकरी छोडो’

बाराबंकी। योगी मोदी की सरकार नही चलेगी, नही चलेगी, किसान कर्जो की माफी, किसानो का नरसंहार बन्द करो। अडानी, अम्बानी की नौकरी छोडो’, जेल में तेरी जगह है कितनी, देखा है और देखेगें, हर जोर जुल्म के टक्कर पर संघर्ष हमारा नारा है, आदि गगनभेदी नारो के साथ देवा रोड़ स्थित गांधी भवन से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी का जेल भरो जुलूस शुरु होकर पटेल तिराहे होते हुये जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचा। जंहा पर कार्यकर्ताओ ने जमकर नारेबाजी करते हुये अपनी गिरफ्तारी देनी चाही। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा पूरे देशभर में किसानो की समस्याओ को लेकर जेल भरो आन्दोलन किया जा रहा है। देश-प्रदेश की सत्तारुढ़ दल की किसान विरोधी नीतियो के कारण प्रतिदिन किसान आत्म-हत्यांए कर रहा है। किसानो ने आन्दोलन के दौरान यह मांग कि किसानो को उनकी फसलो की सरकारी लागत मूल्य के हिसाब से लाभकारी मूल्य निर्धारित किया जाये। जेल भरो आन्दोलन जुलूस में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी समेत अखिल भारतीय नौजवान सभा व किसान सभा कार्यकर्ताओ ने हिस्सा लिया। आन्दोलन के दौरान बृजमोहन वर्मा, रणधीर सिह सुमन, जिलाध्यक्ष नौजवान सभा सरदार भूपिन्दर पाल सिंह, पंड़ित प्रत्यूशकान्त शुक्ला, डा0 कौशर हुसैन, अनिल बौझड़, मंयकर यादव, रामतेज यादव, गिरीश चन्द्र, रामनरेश वर्मा, सन्तराम प्रधान, विनय कुमार सिंह, अमर सिंह, दलसिंगार, विनोद यादव, मुनेश्वर बक्श वर्मा, शिवदर्शन वर्मा, शम्भू वर्मा, जितेन्द्र वर्मा, सुभाष वर्मा, शाहिद अली, रमेश चन्द्र, राजेन्द्र बहादुर सिंह राणा, कर्मवीर िंसह, सुरेश यादव, आशूतोष वर्मा, लवकुश, धीरेन्दर, अम्बिका, अमर सिंह गुड्डू, प्रदीप यादव, कपिल वर्मा, सलाम मोहम्मद आदि प्रमुख लोग शामिल रहे। उपजिलाधिकारी एस0पी0सिंह व क्षेत्राधिकारी नगर श्वेता श्रीवास्तव ने धारा 144 का उल्लंघन न होने पर गिरफ्तारी से मना कर दिया।

कोई टिप्पणी नहीं: