शुक्रवार, 8 सितंबर 2017

संघी हत्यारे बुद्धिजीवी लोगों की हत्याएं कर रहे हैं


बाराबंकी। अखिल भारतीय नौजवान सभा व आल इण्डिया स्टूडेण्ड फेडरेशन की कन्या कुमारी से चलकर हूसैनीवाला जाने वाली लॉन्ग मार्च को जनपद हरदोई में रोके जाने व पत्रकार गौरी लंकेश की निर्मम हत्या के विरोध में प्रदेश व देश की तानाशाह सरकार के तानाशही रवैये के खिलाफ अखिल भारतीय नौजवान सभा के कार्यकर्ताओ द्वारा पुलिस लाइन तिराहे पर प्रदेश सरकार का पुतला फूंक कर विरोध प्रदर्शन किया गया।
                    प्रदर्शन का नेतृत्व नौजवान सभा जिलाध्यक्ष अधिवक्ता बी0पी0सिंह व जिला महामंत्री प्रित्युश कान्त शुक्ल ने किया। इस दौरान कार्यकर्ताओ ने सरकार विरोधी नारे भी लगाये। 
               प्रदेश सरकार का पुतला जलाने से पूर्व गाँधी भवन में आयोजित सभा में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सहसचिव रणधीर सिंह सुमन ने कहा कि जब से देश व प्रदेश में मोदी-योगी सरकारों आयी है, तब से लोकतंत्र समाप्त हो गया है और संघी हत्यारे गिरोह बुद्धिजीवी लोगों की हत्याएं कर रहे हैं। 
                    भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सचिव ब्रज मोहन वर्मा ने कहा कि किसान ऋण माफी योजना जनता के साथ धोखा है।
भाकपा के जिला सहसचिव डॉ0 कौसर हुसेन ने कहा कि नौजवानों और छात्रों के लांग मार्च को हरदोई पुलिस ने योगी के इशारे पर रोक कर लोकतंत्र की हत्या कर दी है। विरोध प्रदर्शन के दौरान किसान सभा जिलाध्यक्ष विनय सिंह, रामनरेश वर्मा, वीरेंदर कुमार, मुनेश्वर, बशत, राकेश, समाजसेवी मयंकर यादव, अधिवक्ता विजय कुमार सिंह, अधिवक्ता पुष्पेन्द्र सिंह, अधिवक्ता राजेंद्र बहादुर सिंह, अधिवक्ता कर्मवीर सिंह, अधिवक्ता आनद सिंह, अधिवक्ता मन्नू लाल चौरसिया, अधिवक्ता गौरी रस्तोगी, अधिवक्ता नीरज वर्मा, अरुण यादव, अवधेश यादव समेत आदि लोगो ने विरोध प्रदर्शन किया।

- भूपिंदर पाल सिंह 

1 टिप्पणी:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' ने कहा…

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शनिवार (09-09-2017) को "कैसा हुआ समाज" (चर्चा अंक 2722) पर भी होगी।
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

Share |