गुरुवार, 3 फ़रवरी 2011

सिब्बल चोर की - खुल गयी पोल

(झूठ तो बोले मगर झूठ का सौदा करें )

राजा की गिरफ्तारी के बाद बच्चों ने नारा लगाया सिब्बल चोर की - खुल गयी पोल माननीय दूरसंचार मंत्री हमेशा राजा के पक्ष में बयान जारी करते रहे कि राजा निर्दोष हैं कोई घोटाला नहीं हुआ है 2-जी स्पेक्ट्र्म के आवंटन में सरकार गंगा की तरह से पवित्र है लेकिन जब देखा गया तो गंगा में पवित्र पानी की बजाय सीवर का पानी था जब सी.बी.आई ने राजा के साथ भारतीय भ्रष्टाचार सेवा के दो अधिकारीयों को भी गिरफ्तार कर लिया तो स्तिथि जनता के सामने ही स्पष्ट हो गयी कपिल सिब्बल साहब ने विदेशी शिक्षा माफियाओं के कहने से पूरी शिक्षा व्यवस्था को ध्वस्त कर दिया है स्कूलों में छात्रों की फीस बढ़ा दी है विदेशी विश्विद्यालयों को आमंत्रित भी किया है विदेशी शिक्षा व्यवस्था लागू करने के लिए यह आवश्यक था कि देश की वर्तमान शिक्षण व्यवस्था को ध्वस्त करना इस कार्य को बखूबी कर दिया है
दूरसंचार मंत्री की हैसियत से अभी हाल में उनका बयान आया है कि मोबाइल की काल दरें महंगी हो जायेंगी जैसे कृषि मंत्री शरद पवार अपना मुंह खोलते हें तो महंगाई बढ़ने लगती है उसी तरह से सिब्बल साहब को जो विभाग मिलता है उसका वह सत्यानाश करने में लग जाते हैं श्री सिब्बल में यदि जरा सा भी जमीर हो तो तुरंत मंत्री पद से इस्तीफा दे दें

सुमन
लो क सं घ र्ष !

1 टिप्पणी:

कृष्ण मिश्र ने कहा…

बेहतरीन विचार