शुक्रवार, 3 अक्तूबर 2014

मूर्तियों के विसर्जन के बहाने गुंडागर्दी

दरोगा जी खूब पिटे प्रशासन भी साथ ना आया
दरोगा जी खूब पिटे प्रशासन भी साथ ना आया

उत्तर प्रदेश में आज दुर्गा पूजा के बाद जगह जगह मूर्ति विसर्जन का कार्यक्रम चल रहा है इस धार्मिक उत्सव में अराजक तत्वों के हौसले बुलंद है. जगह जगह सड़क पर चल रहे वाहनों के ड्राईवरओ  से मार पीट की जा रही है . अपशब्दों का प्रयोग किया जा रहा है . जुलूस में चल रहे असामाजिक तत्व मारपीट भी कर रहे हैं . बाराबंकी के जहांगीराबाद थाना इंचार्ज सुजाऊदीन के साथ क्षेत्र पंचायत सदस्य उमाकांत यादव ने मार पीट की जिससे थाना इंचार्ज के पूरे शरीर में गंभीर चोटें आई हैं उनका डाक्टरी मुआयना भी नहीं कराया गया है . पुलिस अधीक्षक ने अपनी कुर्सी बचाने के लिए तुरंत थाना इंचार्ज को निलंबित कर दिया है जिससे अराजक तत्वों के हौसले और बुलंद हो गए हैं . यह अराजक तत्व हिन्दू धार्मिक उत्सवों पर अपनी गुंडागर्दी को चमकाने के लिए बाहर की जनता से व फ़ोर्स पर हमलावर होते हैं . प्रशासन शांतिपूर्वक कार्यक्रम हो जाए इसके लिए इनके आगे नतमस्तक रहता है . बाराबंकी का प्रशासन भी इसी तरह से पूर्णतया गुंडों और मवालियों के आगे नतमस्तक रहा है . धार्मिक उत्सवों में डी जे तथा शराब पीना कहीं से भी जायज नहीं है .

सुमन
लो क सं घ र्ष !

कोई टिप्पणी नहीं: